प्रोसेसर क्या होता है पूरी जानकारी हिंदी में

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी का मेरे नए ब्लॉग पोस्ट में आज किस पोस्ट में हम जाने वाले हैं मोबाइल Processor के बारे में।

दोस्तों आपने देखा होगा कई लोग ऐसा बोलते हैं कि जब भी आप मोबाइल लो अपने Processor के बारे में जरूर देख लो ऐसा इसलिए बोलते हैं क्योंकि किसी भी Mobile को चलाने के लिए उसका Processor सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण काम करता है।

दोस्तों अगर प्रोसेसर बनाने वाली कंपनियों का नाम बताएं तो इसमें चार कंपनियों का नाम आता है पहला है Qualconm, MediaTek, Samsung और Nvidia और processor के लिए जो आर्किटेक्चर होता है वह Arm कंपनी इन सारी कंपनियों को provide करती है।

दोस्तों आप जब कभी भी कोई मोबाइल लेने के लिए जाते हैं तो आप देखते हैं कि उसका Battery Life कैसा है और फोन heat तो नहीं होता या फिर फोन Lag तो नहीं होता यह सब चीज देखते हैं और यह सब चीज मोबाइल के processor पर ही depend करता है।

इसलिए आपको चाहिए कि आप जब भी कोई मोबाइल खरीदने जाए तो आप को पता होना चाहिए कि आपको कौन सा मोबाइल लेना है और कौन से प्रोसेसर वाला लेना है।

तो आज की पोस्ट में मैं आपको हर एक चीज बहुत ही अच्छी तरह से समझाने की कोशिश करूंगा अगर आपको अच्छी तरह से समझना है तो इस पोस्ट को ध्यान से Read करें।

प्रोसेसर को समझने के लिए हम इसके चार बातों को समझ लेते हैं।

Architacture

ARM जो कंपनी है यह प्रोसेसर बनाने वाली कंपनियों को एक लाइसेंस देती है या फिर या बोल सकते हैं कि एक डिजाइन देती है जिस के Through कंपनीज प्रोसेसर बनाते हैं।

ARM कंपनी ने अभी का सबसे लेटेस्ट प्रोसेसर डिजाइन Cortex a78 बनाया है। जैसे-जैसे इसके नंबर बढ़ते जाएंगे वैसे वैसे ही यह जो आर्किटेक्चर होते हैं यह बहुत ही पावरफुल होते जाएंगे।

Technology

दोस्तों किसी भी प्रोसीजर में जो चिप लगे होते हुए होते हैं जिसे हम ट्रांजिस्टर कहते हैं इन ट्रांजिस्टर की साइज को हम प्रोसेसर का टेक्नोलॉजी बोलते हैं जैसे कि प्रोसेसर में कई करोड़ों ट्रांजिस्टर लगे हुए होते हैं और यह ट्रांजिस्टर जितने छोटे साइज के होंगे आपका प्रोसेसर उतना ही ज्यादा पावरफुल होगा।

जैसा कि आर्म कंपनी प्रोसेसर बनाने वाली कंपनियों को अपना आर्किटेक्चर देती है उस आर्किटेक्चर में प्रोसेसर बनाने वाली कंपनी अपने हिसाब से ट्रांजिस्टर का साइज बनाकर उसको प्रोसेसर में लगाते हैं। और बहुत सारी कंपनियां ट्रांजिस्टर को 10 नैनोमीटर 7 नैनोमीटर 6 नैनो मीटर का बनाते हैं जो कि बहुत ही ज्यादा पावरफुल प्रोसेसर बन जाता है।

आप जितने कम नैनोमीटर का प्रोसेसर वाला मोबाइल खरीदते हैं उतना ही आपके लिए मोबाइल बहुत ही लाभदायक हो सकता है और बहुत ही एनर्जी एफिशिएंट भी होता है।

Number Of Cores

दोस्तों इस पाठ को समझना बहुत ही आसान काम है।
कोर वह चीज होती है जो प्रोसेसर को अलग-अलग भागों में बांटता है।

एक processor के जितने ज्यादा कोर होंगे वह प्रोसेसर उतनी ही ज्यादा स्पीड से काम करेगी जैसे कि आपको पता होगा आपके दो हाथ है मतलब आकर पास जो कोर है तो आप दोनों हाथ से काम करेंगे तो कमी स्पीड देगी मगर आप के पास चार हाथ होंगे तो आप के काम करने का रफ्तार और भी ज्यादा बढ़ जाएगा।

और यही चीज processor में भी work करती है जितने ज्यादा cores होंगे उतने ज्यादा speed से आपका फोन चल पाएगा।

Frecquency (GHZ)

किसी भी प्रोसेसर में जो सर्किट लगी हुई होती है उस सर्किट को ऑन ऑफ करने की क्लॉक स्पीड को हम फ्रिकवेंसी कहते हैं।

जितनी तेजी से यह frequency किसी सर्किट को on/off करती है उतनी ही तेजी से आपका जो टास्क होता है वह पूरा हो जाता है।

जैसा कि 1 गीगाहर्टज का कोई processor है तो वह processor एक सेकंड में 10 हजार बार इस सर्किट को on/off करेगी और यदि कोई processor 2.5 गीगाहर्टज का है तो वह 25 हजार बार उस सर्किट को on/off करेगी और आपका जो टास्क होगा वह ढाई गुना ज्यादा स्पीड से पूरा होगा।

तो दोस्तों मुझे विश्वास है कि मैंने आपको अच्छी तरह से समझाने की कोशिश जरूर की है आप इस post को read करके थोड़ा बहुत research कर लेंगे तो आपको processor के बारे में पूरी जानकारी हो जाएगी हमारे इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*